गौरतलब है कि 5 मार्च को बैंक ने यस बैंक पर विभिन्न प्रतिबंध लगाते हुए और अपने खाता में जमा राशि से 50,000 रुपये से अधिक जारी करने के लिए खाताधारकों पर प्रतिबंध लगाकर अपने बोर्ड को हटा दिया था। सरकार ने 13 मार्च को पुनर्गठन योजना को मंजूरी दी। इसके तहत, भारतीय स्टेट बैंक ने वित्तीय संस्थानों से लगभग 10,000 करोड़ रुपये का निवेश किया है। यस बैंक पर सभी प्रतिबंध बुधवार, 18 मार्च की शाम से हटा दिए गए हैं।

गौरतलब है कि 5 मार्च को बैंक ने यस बैंक पर विभिन्न प्रतिबंध लगाते हुए और अपने खाता में जमा राशि से 50,000 रुपये से अधिक जारी करने के लिए खाताधारकों पर प्रतिबंध लगाकर अपने बोर्ड को हटा दिया था। सरकार ने 13 मार्च को पुनर्गठन योजना को मंजूरी दी। इसके तहत, भारतीय स्टेट बैंक ने वित्तीय संस्थानों से लगभग 10,000 करोड़ रुपये का निवेश किया है। यस बैंक पर सभी प्रतिबंध बुधवार, 18 मार्च की शाम से हटा दिए गए हैं।
गौरतलब है कि 5 मार्च को बैंक ने यस बैंक पर विभिन्न प्रतिबंध लगाते हुए और अपने खाता में जमा राशि से 50,000 रुपये से अधिक जारी करने के लिए खाताधारकों पर प्रतिबंध लगाकर अपने बोर्ड को हटा दिया था। सरकार ने 13 मार्च को पुनर्गठन योजना को मंजूरी दी। इसके तहत, भारतीय स्टेट बैंक ने वित्तीय संस्थानों से लगभग 10,000 करोड़ रुपये का निवेश किया है। यस बैंक पर सभी प्रतिबंध बुधवार, 18 मार्च की शाम से हटा दिए गए हैं।
गौरतलब है कि 5 मार्च को बैंक ने यस बैंक पर विभिन्न प्रतिबंध लगाते हुए और अपने खाता में जमा राशि से 50,000 रुपये से अधिक जारी करने के लिए खाताधारकों पर प्रतिबंध लगाकर अपने बोर्ड को हटा दिया था। सरकार ने 13 मार्च को पुनर्गठन योजना को मंजूरी दी। इसके तहत, भारतीय स्टेट बैंक ने वित्तीय संस्थानों से लगभग 10,000 करोड़ रुपये का निवेश किया है। यस बैंक पर सभी प्रतिबंध बुधवार, 18 मार्च की शाम से हटा दिए गए हैं।

गौरतलब है कि 5 मार्च को बैंक ने यस बैंक पर विभिन्न प्रतिबंध लगाते हुए और अपने खाता में जमा राशि से 50,000 रुपये से अधिक जारी करने के लिए खाताधारकों पर प्रतिबंध लगाकर अपने बोर्ड को हटा दिया था। सरकार ने 13 मार्च को पुनर्गठन योजना को मंजूरी दी। इसके तहत, भारतीय स्टेट बैंक ने वित्तीय संस्थानों से लगभग 10,000 करोड़ रुपये का निवेश किया है। यस बैंक पर सभी प्रतिबंध बुधवार, 18 मार्च की शाम से हटा दिए गए हैं।